पाकिस्तान: तालिबान ने 11 साल पहले बम से तबाह की थी 7वीं सदी की बुद्ध की मूर्ति, स्थानीय लोगों ने दोबारा की कोशिशों से दोबारा तैयार हुई

पाकिस्तान: तालिबान ने 11 साल पहले बम से तबाह की थी 7वीं सदी की बुद्ध की मूर्ति, स्थानीय लोगों ने दोबारा की कोशिशों से दोबारा तैयार हुई

पाकिस्तान की स्वात घाटी में लंबे समय तक सौहार्द का रूप रही बुद्ध की प्रतिमा को एक बार फिर उसके पुराने रूप में तैयार कर दिया गया है। दरअसल, 11 साल पहले यानी 2007 में तालिबान ने स्वात की शांतिप्रिय संस्कृति को दर्शाती हुई बुद्ध प्रतिमा पर डायनामाइट लगाकर उसे तबाह कर दिया था। विस्फोट इतना तेज था कि मूर्ति का चेहरा तक टूट गया था। 7वीं सदी में बनीं ये मूर्ति पाकिस्तान के कुछ चर्चित विरासतों में से एक थी। हालांकि, इसके ध्वस्त होने के कई सालों बाद तक तालिबान के डर से कोई सरकार इसे बनवाने आगे नहीं आई। हालांकि, तालिबान के घटते प्रभाव के बाद 2012 में पहली बार खुद स्थानीय लोगों ने इसे बनवाने का जिम्मा संभाला। इसके बाद 6 सालों तक पुरानी तस्वीरों और 3-डी प्रिंटिंग की बदौलत इस प्रतिमा को अपने पुराने रूप में उकेरा गया।

आज की ताज़ा ख़बरें पढ़ने के लिए दैनिक भास्कर ऍप डाउनलोड करें

Close Menu