बीमार पिता का हाथ बंटाने के लिए छोड़ा शहर, गांव के सरकारी स्कूल में पढ़कर बन गई टॉपर

बीमार पिता का हाथ बंटाने के लिए छोड़ा शहर, गांव के सरकारी स्कूल में पढ़कर बन गई टॉपर

चित्तौड़गढ़ (जोधपुर). इस साल 12वीं बोर्ड परीक्षाओं के बाद राजस्थान माध्यमिक शिक्षा बोर्ड की दसवीं परीक्षा में भी कई विद्यार्थियों ने अपनी सफलता से परिवार के साथ स्कूल और गांव का नाम रोशन किया। भास्कर बता रहा है कुछ ऐसे ही होनहारों की कहानियां।

आज की ताज़ा ख़बरें पढ़ने के लिए दैनिक भास्कर ऍप डाउनलोड करें

Close Menu